पैसों की लालच में नानी को साँप से कटवाकर उतार दिया मौत के घाट, दोस्त के साथ सपेरा भी हत्याकांड में शामिल - cg

Breaking

पैसों की लालच में नानी को साँप से कटवाकर उतार दिया मौत के घाट, दोस्त के साथ सपेरा भी हत्याकांड में शामिल

पखांजूर में शिकायत पत्र प्रेषित किया कि उनकी चाची स्व.रानी पठारिया की मृत्यु सांप काटने से हुई सामान्य मौत नहीं है बल्कि उसके पीछे जीवन बीमा कराकर क्लेम की राशि प्राप्त करने के लिये स्व. रानी पठारिया की हत्या की साजिश रची गयी है। शिकायत अत्यंत गंभीर प्रकृति की होने के कारण अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, पखांजूर डॉ. प्रशांत शुक्ला ने इसे त्वरित जांच में लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कांकेरआईके एलेसेला को अवगत कराकर जांच हेतु मार्गदर्शन लिया एवं शिकायत के तथ्यों की जांच प्रारंभ की।


रानी पठारिया का जीवन बीमा कराकर क्लेम की राशि हड़प करने के उद्देश्य से आपराधिक षडयंत्र रचकर उनका जीवन बीमा कराकर क्लेम की राशि हड़प करने के उद्देश्य से आपराधिक षडयंत्र रचकर उनकी सुनियोजित तरीके से हत्या की गयी है जिसे आकाश पठारिया एवं जीवन बीमा एजेंट तारक देवनाथ ने मिलकर रचा था एवं उसे अंजाम दिया। आकाश पठारिया ने तारक देवनाथ के साथ मिलकर उसकी नानी स्व. रानी पठारिया के नाम पर एक्सीडेन्टल पॉलिसी लेकर उसे किसी सपेरे को कान्ट्रेक्ट देकर जहरीले साँप से डसवाकर मारने का तथा उसे दुर्घटना का रूप देकर उनके बीमा की दोगुनी क्लेम राशि प्राप्त करने का प्लान बनाया।

इस प्लान में आकाश पठारिया ने सपेरे को ढूंढ़कर उसे कान्ट्रैक्ट देने एवं हत्या को दुर्घटना का रूप देने की जिम्मेदारी ली तथा तारक देवनाथ ने रानी पठारिया का एक्सीडेन्टल बीमा के लिये आवश्यक कागजात तैयार करवाने से लेकर बिना किसी अवरोध के क्लेम की राशि प्राप्त करने की जिम्मेदारी ली। आकाश ने रानी पठारिया की दिनांक 26.12.2022 को 03 लाख रुपये वार्षिक प्रिमियम वाली पॉलिसी कराने के बाद सपेरे पप्पू राम नेताम को उसके जहरीले सॉप से रानी पठारिया को डसवाने के लिये 30 हजार रूपये में ठेका दिया और घटना दिनांक 02 मई 2023 को संबलपुर में सपेरे के डेरा में ले जाकर अपनी नानी को सांप से डसवाकर वापस बाद घर ले आया और इस हत्या को दुर्घटना का रूप दे दिया। हत्या के कुछ ही महिनों बाद तारक देवनाथ के प्रयास से दिनांक 15.11.2023 को क्लेम की राशि 01 करोड़ 02 लाख रुपये प्राप्त हो गयी।